Categories
आलिम सर की हिंदी क्लास शब्द पहेली

172. साम-दा*-दंड-भेद में साम के बाद दाम या दान?

हेडिंग में पूछा गया सवाल देखकर आप सोच रहे होंगे कि यह भी क्या सवाल हुआ। यह तो हर कोई जानता है कि ‘साम-दाम-दंड-भेद’ ही होता है, न कि ‘साम-दान-दंड-भेद’। यानी दूसरे नंबर पर दाम है, न कि दान। फ़ेसबुक पर हमारे साथियों ने भी यही जवाब दिया जब हमने उनसे यह सवाल पूछा था। लेकिन क्या यह सही जवाब है? जानने में रुचि हो तो आगे पढ़ें।

Categories
आलिम सर की हिंदी क्लास शब्द पहेली

171. सांप्रदायिक सौहार्द, सौहार्द्र या सौहार्द्य?

Communal Harmony का हिंदी अनुवाद क्या है – सांप्रदायिक सौहार्द… सौहार्द्र… या सौहार्द्य? जब मैंने फ़ेसबुक पर इसके बारे में सवाल किया तो 52% ने सौहार्द्र को सही बताया और 48% ने सौहार्द को। सौहार्द्य के पक्ष में एक भी वोट नहीं पड़ा। अब प्रश्न यह है कि सही क्या है? जानने में रुचि हो तो आगे पढ़ें।

Categories
आलिम सर की हिंदी क्लास शब्द पहेली

170. घर ‘की’ कायापलट या घर ‘का’ कायापलट?

कायापलट दो शब्दों से बना है – काया और पलट। काया स्त्रीलिंग है और पलट पुल्लिंग। ऐसे में कायापलट का लिंग क्या होगा? दूसरे शब्दों में अगर हमें इसका वाक्य में इस्तेमाल करना हो तो क्या लिखेंगे? बहू ने आते ही घर ‘की’ कायापलट कर ‘दी’ या घर ‘का’ कायापलट कर ‘दिया’? आज की चर्चा इसी विषय पर। रुचि हो तो पढ़ें।

Categories
आलिम सर की हिंदी क्लास शब्द पहेली

169. कभी अच्छा है, कभी बुरा है, वह छूरा है या छुरा है?

एक ही औज़ार जब छोटे आकार का हो तो सब्ज़ियाँ काटने के काम में आता है और बड़े आकार का हो तो किसी हत्यारे का हथियार बन जाता है और रक्त बहाता है। समझ तो गए होंगे आप कि मैं किसकी बात कर रहा हूँ। लेकिन प्रश्न यह है कि उसे बोला क्या जाए – छुरा या छूरा। आज की चर्चा इसी शब्द पर।

Categories
आलिम सर की हिंदी क्लास शब्द पहेली

168. गुल माने फूल, गुल माने गुलाब या गुल माने दोनों?

‘फूल खिले हैं गुलशन-गुलशन’ में गुल का मतलब साफ़ है – फूल। लेकिन गुलक़ंद में गुल का मतलब क्या है – क्या कोई भी फूल या केवल गुलाब? और गुलाब में जो गुल है, उसका अर्थ क्या है? फिर एक शब्द है बिजली गुल होना। यहाँ गुल का क्या अर्थ है? और शोरग़ुल? आज की क्लास इसी गुल और ग़ुल शब्दों पर। रुचि हो तो पढ़ें।

Social media & sharing icons powered by UltimatelySocial