Categories
इंग्लिश क्लास

EC53: नियम 4b का जादू, मैजिक से बना मजिशन

पिछली क्लास (EC 52) में हमने नियम 4a के तहत जाना था कि -tion और -sion के पहले वाले सिल्अबल पर स्ट्रेस होता है और यह भी देखा था कि इस कारण से कैसे शब्दों का उच्चारण और कभी-कभी स्पेलिंग भी बदल जाती है (Repeat=रिपीट और Repetition=रेपिटिशन)। इस क्लास में हम i और u से शुरू होनेवाले सफ़िक्स के बारे में बात करेंगे। यहाँ भी नियम वही है कि i और u से शुरू होनेवाले सफ़िक्स से पहले वाले सिल्अबल पर स्ट्रेस होता है। मगर कुछ अपवाद भी हैं। क्या हैं, जानने के लिए आगे पढ़ें।

नियम 4b कहता है कि i और u से शुरू होने वाले सफ़िक्स (प्रत्यय) के मामले में स्ट्रेस उनसे ठीक पहले वाले सिल्अबल पर पड़ता है। नीचे हम ऐसे कुछ उदाहरण देखेंगे। सबसे पहले -ual से अंत होने वाले 5 शब्द देखते हैं और इसमें हम पाएँगे कि कैसे इस नियम से शब्द का उच्चारण बदलता है।

-UAL

Ha.bit.u.alहबीचुअलआदी, अभ्यस्त
Con.cep.tu.alकन्सेप्चुअलविचार आधारित
Re.sid.u.alरिज़िड्युअलअवशिष्ट
Con.tex.tu.alकन्टेक्स्चुअलसहमति से
In.di.vid.u.alइंडिव़िड्युअल/इंडिव़िजुअलव्यक्तिगत

पहला शब्द है Ha.bit.ual (आदी, अभ्यस्त) जो Hab.it (आदत) से बना है। अगर हम स्ट्रेस का नियम नहीं जानते होते तो Habit+ual को बोलते हैबिचुअल (हैबिट+उअल) – कई लोग ऐसा बोलते भी हैं। लेकिन चूँकि हमें नियम पता है, इसलिए हम Ha.bit.ual में -ual से पहले वाले सिल्अबल bit में मौजूद स्वर i पर स्ट्रेस देंगे। इस कारण उससे पहले वाला स्वर यानी a हलका हो जाएगा। हलका यानी छोटा अ। नतीजतन शब्द का उच्चारण होगा – हबिचुअल, न कि हैबिचुअल।

इसी तरह Con.cept का उच्चारण है कॉन्सेप्ट (नियम 2) मगर जब उसके पीछे -ual लग जाता है तो वह हो जाता है कन्सेप्चुअल (Con.cep.tu.al) क्योंकि स्ट्रेस – ual से पहले वाले स्वर e (cep) पर आ जाता है। फलतः उससे पहले वाला सिल्अबल Con हलका हो जाता है और उसका उच्चारण हो जाता है कन् न कि कॉन्। यही बात बाक़ी शब्दों में भी है।

अब हम बारी-बारी से शेष सफ़िक्सों के उदाहरण देखते हैं।

-IAL

Sub.stan.tialसब्स्टेंशलअच्छा-ख़ासा
Po.ten.tialपटेंशलबीज क्षमता
Tor.ren.tialटरेंशलभारी वर्षा
Es.sen.tialइसेंशलअनिवार्य
Dic.ta.to.ri.alडिक्टटॉरिअलनिरंकुश

-IENT

Con.ven.i.entकन्व़ीनिअंटसुविधाजनक
Re.cip.i.entरिसिपिअंटपाने वाला
O.be.di.entअबीडिअंटआज्ञाकारी
Ef.fi.cientइफ़िशंटकार्यकुशल
Pro.fi.cientप्रफ़िशंटनिपुण

 -IOUS 

De.li.ciousडिलिशस*स्वादिष्ट
Ma.li.ciousमलिशस*दुर्भावनायुक्त
Con.ten.tiousकन्टेंशसविवादात्मक
Re.bel.liousरिबेल्यसविद्रोही
Con.ta.giousकन्टेजससंक्रामक
*स्ट्रेस के कारण डिलिशस और मसिशस का उच्चारण डिलीशस और मलीशस जैसा होगा।

-ITY

Su.pe.ri.or.i.tyसूपिअरिऑरिटीश्रेष्ठता
A.bil.i.tyअबिलिटीयोग्यता
Ca.pac.i.tyकपैसिटीसामर्थ्य
Spe.ci.al.i.tyस्पेशिऐलिटीविशेषज्ञता
Op.por.tu.ni.tyऑपरचुनिटीअवसर

-IAN

Ma.gi.cianमजिशनजादूगर
Pol.i.ti.cianपॉलिटिशनराजनीतिज्ञ
E.lec.tri.cianईलेक्ट्रिशनबिजली मिस्त्री
Pro.le.tar.i.anप्रोलिटेअरिअनश्रमजीवी संबंधी
Veg.e.tar.i.anव़ेजिटेअरिअननिरामिष
Magician के अलावा बाक़ी चारों शब्दों में पहले सिल्अबल पर सेकंडरी स्ट्रेस है जिससे उन सबका उच्चारण भारी हो रहा है – पॉ, ई, प्रो और व़ेज।

यहाँ एक बार रुककर ऊपर के शब्दों पर ग़ौर करते हैं। आपने Ma.gi.cian का उच्चारण देखा। यह Mag.ic से बना है जिसका उच्चारण हो रहा है मैजिक (नियम 2)। लेकिन उसके बाद -ian लगा तो म् के साथ लगी ऐ की मात्रा (मै) हट गई और हो गया म। Ma.gi.cian में चूँकि नियम 4b के अनुसार -cian से पहले वाला शब्दांश gi पर स्ट्रेस होगा, इसलिए उससे पहले वाले सिल्अबल में मौजूद स्वर a का उच्चारण हलका होगा। शब्द बना मजिशन।

अब फिर आगे बढ़ते हैं।

-IBLE

Con.vert.i.bleकन्व़ऽटिबलपरिवर्तनीय
Sus.cep.ti.bleससेप्टिबलअतिसंवेदनशील
Au.di.bleऑडिबलसुने जाने योग्य
Col.laps.i.bleकलैप्सिबलमोड़े जाने योग्य
Ad.mis.si.bleअडमिसिबलस्वीकार योग्य
El.i.gi.ble (एलिजिबल), Neg.li.gi.ble (नेग्लिजिबल) आदि कुछ अपवाद हैं जिनमें स्ट्रेस -ible से पहले वाले सिल्अबल पर नहीं पड़ रहा।

-IC

Ter.rif.icटरिफ़िकभयानक/ज़बर्दस्त
A.tom.icअटॉमिकपरमाणविक
De.mon.icडिमॉनिकराक्षसी
Al.lo.path.icऐल्अपैथिकअलॉपथी चिकित्सा संबंधी
Pa.thet.icपथेटिकदयनीय
1. Lu.na.tic (लून्अटिक), Her.e.tic (हेरिटिक) जैसे कुछ शब्द अपवाद हैं। 2. Pan.dem.ic (पैनडेमिक), Fan.tas.tic (फ़ैनटैस्टिक), Au.then.tic (ऑथेंटिक), Cli.mat.ic (क्लाइमैटिक) जैसे शब्दों में स्ट्रेस तो -ic से पहले वाले सिल्अबल पर पड़ रहा है लेकिन उसकी वजह से उससे पहले वाला सिल्अबल हलका नहीं हो रहा। उनमें ऐ (पैन और फ़ैन), ऑ (ऑ), आइ (क्लाइ) आदि का उच्चारण हो रहा है जो भारी माने जाते हैं।

-URE

Ex.pend.i.tureइक्सपेंडिच/इक्सपेंडिचरusख़र्च
Ex.po.sureइक्सपोश्ज़/इक्सपोश्ज़रusअनावरण
Con.jec.tureकन्जेक्च/कन्जेक्चरusअटकल
Ac.u.pres.sureऐक्यूप्रेश/ऐक्यूप्रेशरusइलाज की एक विधि
Ag.ri.cul.tureऐग्रिकल्च/ऐग्रिकल्चरusकृषि
Ac.cu.pres.sure और Ag.ri.cul.ture में प्राइमरी स्ट्रेस पहले सिल्अबल पर है। -ure से पहले वाले सिल्अबल पर स्ट्रेस है मगर सेकंडरी क़िस्म का।

-ICE

Ac.com.pliceअकॉम्प्लिसकुकर्म में सहायक
Ap.pren.ticeअप्रेंटिसप्रशिक्षु
Mal.iceमैलिसद्वेष
Cow.ard.ice (काउअडिस/कावर्डिसus) अपवाद है। उसमें स्ट्रेस -ice से पहले वाले सिल्अबल पर न पड़कर सबसे पहले वाले सिल्अबल पर पड़ रहा है।

i से शुरू होने वाले कुछ सिल्अबल जैसे -ite और -ive में कोई नियम नहीं है। आम तौर पर जिस शब्द के पीछे वे लगते हैं, वैसा ही नए शब्द का भी उच्चारण होता है जैसे Pro.gress=प्रग्रेस तो Pro.gres.sive=प्रग्रेसिव़। इसी तरह Op.er.ate=ऑपरेट तो Op.er.a.tive=ऑपरेटिव़। लेकिन Ex.e.cute=एक्सिक्यूट के बाद -ive लगाने पर हो जाता है Ex.ec.u.tive=इग्ज़ेक्युटिव़। Ne.gate (निगेट) में -ive लगने पर हो जाता है Neg.a.tive=नेग्अटिव़।

इसी तरह Fi.nite (फ़ाइनाइट) में स्ट्रेस -ite से पहले वाले सिल्अबल पर है (जो कि नियम 4b के अनुसार ही है) लेकिन In.fi.nite (इनफ़िनिट) में स्ट्रेस fi पर न पड़के सबसे पहले सिल्अबल In पर पड़ रहा है। नतीजतन Fi.nite में Fi का उच्चारण हो रहा है फ़ाइ (भारी) मगर In.fi.nite में Fi का उच्चारण हो रहा है फ़ि (हलका)।

-ing, -ist, -ism आदि भी इस ग्रूप से अलग हैं। उन पर दूसरा नियम चलता है जिसके बारे में बात करेंगे आगे की क्लास में।

इस क्लास का सबक़

i और u से शुरू होनेवाले सफ़िक्स वाले शब्दों में स्ट्रेस इन सफ़िक्सों से से पहले वाले सिल्अबल पर स्ट्रेस पड़ता है। यानी इन सफ़िक्स से पहले वाला सिल्अबल भारी होगा या भारी की तरह ट्रीट होगा और उससे पहलेवाला हलका होगा। इस आधार पर हम किसी शब्द का उच्चारण निकाल सकते हैं। नियम 4b के कारण ही Mag.ic (मैजिक) से Ma.gi.cian (मजिशन) और At.om (ऐटम) से A.tom.ic (अटॉमिक) हो जाता है। -ing, -ist, -ism जैसे सफ़िक्स इस ग्रूप से बाहर हैं। उनकी चर्चा अगली क्लास में।

अभ्यास

अख़बार या मैगज़ीन से ऊपर बताए गए सफ़िक्स वाले शब्द खोजें और नियम के मुताबिक़ उनके उच्चारण का अंदाज़ा लगाने का प्रयास करें और उन्हें डिक्शनरी से मिलाएँ। ऐसा शब्द नहीं खोज पाएँ तो इस साइट से -ian वाले शब्द खोजें। फिर सर्च बॉक्स में Ends with वाले खाने में एक-एक कर बाक़ी सफ़िक्स डालें। यह बॉक्स कुछ ऐसा दिखेगा (देखें चित्र)।

चलते-चलते

ऊपर की लिस्ट में आपने Politician, Magician, Electrician आदि के उदाहरण देखे। इन सबके अंत में -cian है जिसका उच्चारण शन होता है। लेकिन अधिकतर लोग इसे सिअन या शिअन बोलते हैं जैसे इलेक्ट्रिशियन, पॉलिटिशियन आदि। लेकिन इनका उच्चारण होता है शन। -ian से अंत होने वाले शब्दों के उच्चारण के बारे में क्लास EC68 में विस्तार से बताया गया है।

(Visited 14 times, 1 visits today)
पसंद आया हो तो हमें फ़ॉलो और शेयर करें

अपनी टिप्पणी लिखें

Your email address will not be published.

Social media & sharing icons powered by UltimatelySocial