Categories
इंग्लिश क्लास

EC48: स्ट्रेस और सिल्अबल – 7 पॉइंट में सबकुछ

स्ट्रेस और सिल्अबल (शब्दांश) पर अब तक चार क्लासें हो चुकी हैं – EC 44, 45, 46 और 47। आज की इस क्लास में उन चारों क्लासों के निष्कर्ष सात पॉइंटों में बता रहा हूँ। आप इन्हें रिविश्ज़न के तौर पर पढ़ें और यदि कोई बात समझ में नहीं आ रही तो दोबारा पिछली क्लासों में जाएँ क्योंकि जब तक आप इन सात बिंदुओं को नहीं समझेंगे, तब तक आप आगे की क्लासों को भी नहीं समझ पाएँगे।

सिल्अबल और स्ट्रेस की पिछली चार क्लासों के निष्कर्ष ये रहे।

1. हर शब्द में एक या अधिक सिल्अबल होते हैं। 

2. सिल्‌अबल या शब्दांश का अर्थ है किसी शब्द के वे हिस्से जो स्वतंत्र रूप से बोले जा सकें। जैसे हिंदी में पानी में पा और नी दो सिल्अबल हुए। उसी तरह Wa.ter में वॉऽ और ट दो सिल्अबल हैं (अमेरिकी उच्चारण में वॉऽ और टर दो सिल्अबल होंगे क्योंकि वहाँ र का उच्चारण होता है)। Glass में केवल एक सिल्अबल है — ग्लास। सामान्यतः एक सिल्अबल में एक ही स्वर या व़ावल होता है लेकिन कई बार ज़्यादा भी हो सकते हैं। जैसे Meet में एक सिल्अबल है मगर दो व़ावल हैं – ee। इसी तरह Round में भी एक ही सिल्अबल में दो स्वर हैं – o और u। कहने का अर्थ यह कि दो या तीन स्वर जब एकसाथ आएँ तो उनको एक ही सिल्अबल का हिस्सा समझना चाहिए।

3. जब किसी शब्द में दो या उससे ज़्यादा सिल्अबल होते हैं, तब उनमें से एक सिल्अबल पर बोलते समय ज़्यादा ज़ोर या स्ट्रेस (Stress) दिया जाता है। जैसे ऊपर Wa.ter में Wa को ज़ोर से बोला जाता है और दूसरे सिल्अबल ट या टरus बोलते समय आवाज़ को हलका कर दिया जाता है।

4. जिस शब्दांश या सिल्अबल पर स्ट्रेस दिया जाता है, उसका उच्चारण या तो 1. CVC और CVCe के नियमों के अनुसार होता है (पढ़ें EC3EC9) या फिर 2. ‘भारी’ होता है। इसके परिणामस्वरूप 99% मामलों में उसके दाएँ-बाएँ वाले सिल्अबल का उच्चारण ‘हलका’ होता है। इसे हम हलका-भारी-हलका का नियम कह सकते हैं।

लंबे शब्दों में कई बार दो सिल्अबल पर भी ज़ोर दिया जाता है। यानी वहाँ भारी-हलका-भारी (Mem.o.rise=मेम.अ.राइज़) या भारी-हलका-भारी-हलका (Punc.tu.a.tion=पंक.चु..शन) वाला पैटर्न दिखाई देता है। यदि एक शब्द में दो सिल्अबलों पर स्ट्रेस है तो एक पर प्राइमरी स्ट्रेस और दूसरे पर सेकंडरी स्ट्रेस होगा। जो अक्षर गहरे काले (बोल्ड) में हैं, उनपर प्राइमरी स्ट्रेस और जिनके नीचे लाइन (अंडरलाइन) है, उन पर सेकंडरी स्ट्रेस होता है। 

5. (छोटा) ॲ, इ और उ (और कभी-कभी ए) हलके उच्चारण होते हैं जबकि बाक़ी सारे स्वर (आ, ई, ऊ, ए, एऽ आदि) या द्विस्वर (आउ, आइ, ऑइ) भारी उच्चारण होते हैं।

6. एक ही व़ावल यदि स्ट्रेस वाले सिल्अबल का हिस्सा है तो उसका उच्चारण CVC और CVCe के नियमानुसार अथवा भारी होगा और बिना स्ट्रेस वाले हिस्से में है तो उसका उच्चारण हलका होगा। इसी कारण Age का उच्चारण स्ट्रेस वाले सिल्अबल में एज (Age.less=एज.लस) होता है तो बिना स्ट्रेस वाले सिल्अबल में इज (Pack.age=पैक्.इज) होता है। 

7. यदि यह पता चल जाए कि किसी शब्द में किस सिल्अबल पर ज़ोर (स्ट्रेस) देना है तो उसका CVC/CVCe के नियमानुसार या भारी उच्चारण करके और बाक़ी सिल्अबल का हलका उच्चारण करके पूरे शब्द के उच्चारण का अंदाज़ा लगाया जा सकता है। जैसे Pack.age में दो a हैं। एक स्ट्रेस वाले हिस्से यानी Pack में है, दूसरा बिना स्ट्रेस वाले हिस्से यानी age में है। चूँकि स्ट्रेस Pack पर है तो आप उसमें CaC का नियम लगाकर (पढ़ें – CaC में a=ऐ) और Age में a का हलका उच्चारण (यानी इ) – करके पूरे शब्द का उच्चारण पता कर सकते है — पैक.इज या पैकिज।

यदि आप ऊपर के सातों पॉइंट्स को अच्छी तरह समझ गए हैं तो समझिए कि आपने तीन-चौथाई मैदान मार लिया। अब हमारा काम उन सात नियमों को समझना और याद रखना है जो हमें यह बताएँगे कि किसी शब्द में स्ट्रेस किस सिल्अबल पर पड़ेगा।

पहले नियम के बारे में बात अगली क्लास से।

इस क्लास का सबक़

अमूमन किसी शब्द में जितने स्वर या स्वर समूह होते हैं, उतने ही सिल्अबल यानी शब्दांश होते हैं। हर शब्द में किसी एक या दो सिल्अबल पर स्ट्रेस दिया जाता है और उसका उच्चारण CVC/CVCe के नियमों के अनुसार (EC3 से EC9) अथवा भारी किया जाता है। नतीजतन उसके दाएँ-बाएँ वाले सिल्अबल का उच्चारण हलका हो जाता है। हलका उच्चारण यानी छोटा अ, इ, उ और कभी-कभी ए। बाक़ी सारे स्वर-उच्चारण भारी होते हैं। ए भी इसमें शामिल है। किसी शब्द में किस हिस्से पर स्ट्रेस है और किसपर नहीं, यह जानकर उनके स्वरों का भारी या हलका उच्चारण करके पूरे शब्द का उच्चारण जाना जा सकता है।

अभ्यास

मैंने आगे दस शब्द दिए हैं जिनमें शुरू में Pro या Re है। आपकी सुविधा के लिए सभी शब्दों के उन हिस्सों को बोल्ड कर दिया है जिनपर स्ट्रेस है। इससे आप पता लगाइए कि इन शब्दों में Pro का कहाँ प्रॉ (भारी) उच्चारण होगा और कहाँ प्र (हलका)। इसी तरह Re वाले शब्दों में कहाँ Re का उच्चारण रि होगा और कहाँ री?  1. Pro.vide (…व़ाइड) 2. Pro.ceed (…सीड) 3. Pro.voke (…व़ोक) 4. Pro.fit (…फ़िट) 5. Pro.ject (…जेक्ट) 6. Re.vise (…व़ाइज़) 7. Re.sume (…ज़्यूम), 8. Re.new (…न्यू) 9. Re.tail (…टेल) 10. Re.port (…पॉर्ट)। एक बार फिर से याद दिला दूँ, जिन हिस्सों पर स्ट्रेस है, उसका भारी और जिसपर नहीं है, उसका हलका उच्चारण होगा। उत्तर नीचे दिए हुए हैं।

उत्तर

Pro.vide (प्रव़ाइड) 2. Pro.ceed (प्रसीड) 3. Pro.voke (प्व़ोक) 4. Pro.fit (प्रॉफ़िट) 5. Pro.ject (प्रॉजेक्ट) 6. Re.vise (रिव़ाइज़) 7. Re.sume (रिज़्यूम), 8. Re.new (रिन्यू) 9. Re.tail (रीटेल) 10. Re.port (रिपॉर्ट)।

(Visited 17 times, 1 visits today)
पसंद आया हो तो हमें फ़ॉलो और शेयर करें

अपनी टिप्पणी लिखें

Your email address will not be published.

Social media & sharing icons powered by UltimatelySocial